.....

Bewafai Shayari, तुझे चाहा भी तो...

तुझे चाहा भी तो इजहार न कर सके,
कट गई उम्र किसी से प्यार न कर सके,
तुने माँगा भी तो अपनी जुदाई मांगी,
और हम थे की इंकार न कर सके!

1 शायरी पसंद आने पर एक टिप्पणी (Comment) जरूर लिखे।:

Beenit kumar 18 May 2015 at 8:47 AM  

Chand Par Kaali Ghata Chhati To Hogi
Sitaro Ko Muskurahat Aati To Hogi
hello friends here you can read Hindi Shayari. and Urdu Shayari

if you want read romantic shayari Click Here.

Post a Comment

Please like this website on facebook

फेसबुक उपयोगकर्ता के लिए टिप्पणी करने हेतु आसान टिप्पणी बॉक्स

  © World Of Hindi Shayari. All rights reserved. Blog Design By: Jitmohan Jha (Jitu)

Back to TOP