.....

Dard Shayari, तेरे लिए खुद को...

तेरे लिए खुद को मजबूर कर लिया;
ज़ख्मो को अपने नासूर कर लिया;
मेरे दिल में क्या था ये जाने बिना;
तुने खुद को हमसे कितना दूर कर लिया!

1 शायरी पसंद आने पर एक टिप्पणी (Comment) जरूर लिखे।:

rajesh negi 6 May 2013 at 10:56 AM  

Such a nice Shayari www.loverspoint27.blogspot.com

Post a Comment

Please like this website on facebook

फेसबुक उपयोगकर्ता के लिए टिप्पणी करने हेतु आसान टिप्पणी बॉक्स

  © World Of Hindi Shayari. All rights reserved. Blog Design By: Jitmohan Jha (Jitu)

Back to TOP