......

Maithili Shayari, हमर कहानी हमर...

हमर कहानी हमर खिस्सा छी अहाँ,
हमर साँस हमर दुनियाँ छी अहाँ,
अहाँ कें कोना हम बिसैर जाऊ,
हमर हरेक साँसक हिस्सा छी अहाँ!

0 कैसा लगा ये शायरी ? अपना विचार यहाँ लिखे।:

Post a Comment

  © World Of Hindi Shayari. All rights reserved. Blog Design By: Jitmohan Jha (Jitu)

Back to TOP